खोज

निधियो का उपयोग

उपयोग अवधि तथा अप्रयुक्त निधि के लिए ब्याज दर

  •  राज्य सरणी अभिकरणोंको एनएसएफडीसीसे ली गई निधियों का उपयोग निधियों के निर्मुक्त होने की तारीख से 120 दिनों के अंदर करना होता है।

  • राज्य सरणी अभिकरणोंद्वारा लाभार्थियों को वास्तव में निर्मुक्त की गई या अनुमोदित परियोजनाओं के लिए परिसंपत्तियों की प्राप्ति के लिए आपूर्तिकर्ताओं को आग्रम दी गई एनएसएफडीसीकी निधियों को ही उपयोग की गई निधियों के रूप में समझा जाएगा।

  •  राज्य सरणी अभिकरणद्वारा एनएसएफडीसीनिधि का निगम द्वारा निर्मुक्त की गई तारीख से 120 दिनों के अंदर उपयोग में न लाने पर नीचे दिए गए अनुसार ब्याज लागू होगा।

  •   यदि पूर्ववर्ती संचयी उपयोग स्तर 80% से कंम होने पर अप्रयुक्त निधि पर ब्याज 120 दिनों से आधिक दिनों तक निधियों के अप्रयुक्त रहने पर उक्त 120 दिनों सहित संपूर्ण अवधि, जिस दौरान निधि अप्रयुक्त रही, के लिए लागू सामान्य ब्याज दर से आधिक 4% तक के बराबर लागू होगा।

  • उपरोक्त के होते हुए भी, निधियाँ जिनका उपयोग बिल्कुल नहीं किया जाता और लाभार्थियों को अगला संवितरण किए बिना लौटाया जाता है, उस पर भी ब्याज प्रभारित होगा, तथा राज्य सरणी अभिकरणको, एनएसएफडीसीको निधि लौटाने तक उक्त 120 (नब्बे) दिन सहित, संपूर्ण अवधि के लिए जिस योजना के अंतर्गत निधि प्रभारित की गई थी उसके लिए लागू सामान्य ब्याज दर के आतरिक्त 4% के बराबर ब्याज दर की अदायगी करनी होगी।

  • राज्य सरणी अभिकरणको अप्रयुक्त निधियों पर ब्याज के प्रभारण से छूट दी जाएगी यदि पूर्ववर्ती वित्त वर्ष के अंत में उनका संचयी उपयोग 80% अथवा अधिक है।

 

 प्रगति रिपोर्टे प्रस्तुत करना
राज्य सरणी अभिकरण प्रत्येक तिमाही में एनएसएफडीसी की उपयोग निधियों की योजनावार तिमाही प्रगति रिपोर्ट निर्धारित प्रपत्र (संलग्नक-I) के अनुसार भेजेंगे। यह तिमाही रिपोर्ट प्रत्येक तिमाही की समाप्ति से 10 दिनों के अंदर एनएसएफडीसी में पहुंच जानी चाहिए।
दर्शकों की गणना :